5 मिनट में दिमाग को 20 गुना तेज कैसे करें | दिमाग तेज करने के उपाय

You are currently viewing 5 मिनट में दिमाग को 20 गुना तेज कैसे करें | दिमाग तेज करने के उपाय

दिमाग तेज करने के उपाय: कुछ लोगों का मानना है कि प्रतिभा जन्मजात होती है और कुछ का मानना होता है कि प्रतिभा अर्जित की जा सकती है। मैं दूसरे प्रकार के लोगों में से एक हूं।

मुझे लगता है कि निरंतर अभ्यास से हम वो सब प्राप्त कर सकते हैं जो हमें अपने जन्म के साथ नहीं मिला। चूंकि यहां प्रश्न दिमाग को तेज़ करने से संबंधित है तो मैं कहूंगा कि कुछ तरकीबों या हैक्स से बुद्धिमत्ता बढ़ाई जा सकती है।

दिमाग तेज करने के उपाय (How to Boost Brain Power)

Dimag tej karne ke upay: अध्ययनों से पता चला है कि शारीरिक व्यायाम से मस्तिष्क की कार्यक्षमता में वृद्धि होती है और विकास और बीमारियों और बढ़ती उम्र से बचने के लिए कार्य को बढ़ावा देने में एक लंबा रास्ता तय होता है। 

एक स्वस्थ मस्तिष्क रखने के लिए समय और प्रयास लेने से एक खुशहाल और उत्पादक जीवन मिलता है। मस्तिष्क प्रदर्शन, स्वास्थ्, स्मृति को बढ़ावा देने और दिमाग तेज करने के उपाय के कुछ तरीके आज इस लेख में बताने वाला हूँ इसे अंत तक जरूर पढ़े।

दिमाग तेज करने का व्यायाम/yoga (Exercises to boost memory)

मस्तिष्क व्यायाम: मस्तिष्क सहित हमारे शरीर के हर अंग को व्यायाम की आवश्यकता होती है। अपने आप को मानसिक खेल, पहेली, पढ़ने, गणित की समस्याओं और याद करने में व्यस्त रखें।

दिमाग तेज करने का व्यायाम/yoga (Exercises to boost memory)-दिमाग-तेज-करने-के-उपाय

सबसे अच्छा विचार अपने आप को ऐसी गतिविधियों से जोड़ना होगा, जिसमें ड्राइंग, पेंटिंग, संगीत, खेल जैसे कौशल की आवश्यकता हो।

ये आपके मस्तिष्क को उत्तेजित करने और मस्तिष्क की नई कोशिकाओं को बनाने में मदद करते हैं। मन और शरीर दोनों का उपयोग करने से आपको अपना ध्यान और एकाग्रता बढ़ेगी |

शारीरिक व्यायाम: पूरे शरीर में रक्त का प्रवाह बढ़ाना स्वस्थ दिमाग के लिए एक अच्छा उपाय है। यदि आप नियमित रूप से जिम में कसरत करते हैं या कार्डियो करते हैं तो आप can ब्रेन फॉग ’से बच सकते हैं।

ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने पाया कि नियमित व्यायाम आपके हिप्पो-परिसर के आकार को बढ़ाता है, मस्तिष्क का क्षेत्र मौखिक स्मृति और सीखने में शामिल है।

हालांकि, यह केवल प्रतिरोध प्रशिक्षण, मांसपेशियों की टोनिंग और शरीर सौष्ठव व्यायाम के बजाय कार्डियो और रक्त पंपिंग अभ्यासों के लिए कारगर साबित हुआ हैं।

दिमाग तेज करने के लिए क्या खाना चाहिए (Memory boosting Foods)

क्या खाने से दिमाग तेज होता है: मस्तिष्क के विकास और स्वास्थ्य की बात करें तो अच्छा आहार वास्तव में बहुत महत्व रखता है। विटामिन, खनिज, फैटी एसिड और खनिज का शरीर को लगातार मिलना मस्तिष्क की शक्ति बढ़ाने बनाने में फायदेमंद होता हैं।

कुछ सुपर ब्रेन फूड जो आपको अभी शुरू करने चाहिए, वो हैं ब्लूबेरी, मछली (विशेषकर सलमॉन), अंडे, पालक, अखरोट (इस विभाग के राजा)।

दिमाग तेज करने के लिए क्या खाना चाहिए (Memory boosting Foods)

कम कैलोरी सेवन को बुढ़ापे में मानसिक गिरावट के कम जोखिम के सीधे आनुपातिक रूप में देखा गया है। फोलिक एसिड, B6 और B12 जैसे विटामिन आपके होमोसिस्टीन के स्तर को कम करने में मदद करते हैं।

कहते हैं बादाम का सेवन दिमाग को तेज बनाता है और अगर फलों की बात की जाए तो अनार ऐसा फल होता है जिसमें ऐसा केमिकल कंपाउंड है जो हमारे दिमाग की कार्य क्षमता को और याददाश्त बेहतर करता है।

अनार को कैंसर से लड़ने वाला तथा दिल की सेहत व इम्यूनिटी बढ़ाने वाला माना जाता है।

अच्छी नींद (दिमाग तेज करने के उपाय)

अच्छी नींद आना भी लाभकारी है। हर रात 7 से 8 घंटे की नींद पूरी करो यह आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित होगा।

ध्यान (दिमाग तेज करने के उपाय)

सबसे महत्वपूर्ण गतिविधि जो आपके मस्तिष्क को सबसे कम समय में ऊर्जावान बनाएंगी , वह है ध्यान। तनाव और चिंता आपके मस्तिष्क पर एक निरंतर दबाव की तरह होता है।

प्रेरणा के लिए कुछ, स्वस्थ तनाव महत्वपूर्ण हो सकते हैं, लेकिन वे आपकी उम्र को तेज़ बनाते हुए आपकी याददाश्त और मनोदशा को प्रभावित करते हैं अधिवृक्क(adrenal) थकान का कारण बन सकते हैं।

इनसे बचने के लिए, सबसे अच्छा हैक श्वास तकनीक का अभ्यास करना है। प्रत्येक दिन आधे घंटे के लिए ध्यान लगाने से आपके शरीर में तनाव का स्तर काफी कम हो जाएगा।

जरूर पढ़ें: सेल्फ स्टडी कैसे करें | एग्जाम में आए नंबर 1

दिमाग तेज करने का तरीका (Improve Mind Power)

Dimag tej karne ka tarika: दिमाग में लंबे समय तक याद रखने को ही दिमाग तेज करना बोलते हैं। दिमाग में दो तरह की मेमोरी होती है, STM और LTM.

STM मीन्स शार्ट टर्म मेमोरी तथा LTM मीन्स लांग टर्म मेमोरी

अगर कुछ भी याद रखना है तो वह पहले stm में सेव होती है जिसकी मियाद मात्र दो मिनट होती है। अगर उन दो मिनट को 10 मिनट तक अगर लगातार याद किया जाए तो वह ltm में जाकर सेव हो जाता है।

इसलिए अगर दिमाग को तेज करना है तो आप stm में सेव मेमोरी को लगातार याद करें जिससे कि वह ltm में जाकर सेव हो जाये और ltm में सेव बातों को इंसान लंबे समय तक याद रखता है।

सीधे शब्दों में यह कि आप किसी भी बात का लगातार रिवीजन करते रहिए जिससे कि आपका दिमाग तेज हो जाये।

अगर मेडिटेशन या ध्यान लगाना आपकी हॉबी है तो जान लें ये दिमाग को शार्प रखने का सबसे बेहतरीन तरीका है। इससे याद्दाश्त मजबूत होती है। चीजें याद करने या दोहराने की आदत बेहतर होती है। इससे चीजों का लंबे समय तक याद रखा जा सकता है.

खेलकूद – बच्चे खेलकूद में जितने फुर्तीले होते हैं, उनका दिमाग उतना ही तेज और सक्रिय होता है। इस तरह से बच्चों के दिमाग में ऑक्सीजन का प्रवाह भी सही होता है, जो उनके दिमाग के लिए बहुत अच्छा होता है।

और पढ़ें: किताब पढ़ने के खास फायदे

मेमोरी शार्प करने की टिप्स (How to Sharp Memory for Students In Hindi)

मैंने कुछ लोगों के अनुभव और किताबें पढ़कर ये तरकीबें सीखी है और इनमें से कुछ का मैं अपने दैनिक जीवन में पालन भी करता हूं। उम्मीद करता हूं कि ये तरकीबें आपके लिए भी उपयोगी साबित होंगी।

दिमाग तेज करने का तरीका (Improve Mind Power

1. उल्टे हाथ से ब्रश करना: जब आप उल्टे हाथ से ब्रश करते हैं तो आपके दिमाग का वो हिस्सा सक्रिय हो जाता है जो कि हमारे शरीर के बाएं तरफ से अंगों से जुड़ा होता है। इस प्रकार हमारे दिमाग को ये संदेश जाता है कि आज कुछ अलग है, इसलिए वो अधिक तीव्रता से काम करने लगता है।

2. डायरी लिखना: जब आप अपने दिन की सारी बातें डायरी में लिखते हैं तो आपके दिमाग पर ज़ोर पड़ता है उन्हें याद करने के लिए।इससे निश्चित ही हमारी याददाश्त तेज़ होती है।

3. मनुष्य का सबसे बड़ा दूश्मन उसका खालीपन है वो जभी अपने आप को खाली पाता है तो उसका मन बुरी भावनाओं को जन्म देने लगता है। इसलिए आप कभी भी खाली न बैठे अपने आप को किसी न किसी काम में लगाए रखे जैसे किताबें पढ़ना, समाचार पढ़ना आदि इससे आपकी बुद्धि में तेजी और स्फूर्ति बनी रहेगी।

5 बेहतरीन किताब जो दिमाग को 20 गुणा तेज करदे, इसे अभी खरीदें

4.पॉवर नैप लेना: इससे तात्पर्य यह है कि दिन में कुछ मिनट के लिए आंखे बंद कर के सो जाना।इससे हमारे निरंतर चलने वाले दिमाग को अपनी ऊर्जा प्राप्त हो जाती है और वो बेहतर ढंग से कार्य कर पाता है।

5.फोन नंबर याद रखना: मैं तो कहती हूं कि फोन नंबर के साथ साथ आप पिन कोड व जन्मदिन जैसे अन्य महत्वपूर्ण चीज़ें याद रखें,इन्हे डायरी में ना लिखें। इससे आपके दिमाग को काम करने का अवसर मिलेगा। क्योंकि आज कल की दुनिया में सब कुछ इतना स्वचालित हो गया है कि हम अपने दिमाग पर ज़रा भी ज़ोर नहीं डालते, इसलिए अधिकांश समय वो पूर्ण रूप से सक्रिय नहीं रह पाता।

6. मोबाइल गेम या वीडियो game एक सीमित समय में निरंतर खेलने से भी दिमाग की एकाग्रता में वृद्धि होती है।

7. योग और मेडिटेशन द्वारा भी दिमाग़ की शक्ति बढ़ाई जा सकती है।

8. अपने शरीर को पर्याप्त मात्रा में हाइड्रेटेड अवश्य रखें: अपनी सुबह की शुरुआत 2-3 ग्लास पानी से करें। चूंकि हमारे शरीर का एक बड़ा भाग पानी से चलता है, इसलिए आवश्यक है कि पानी की कमी शरीर में ना होने पाए।

9. अपने काम को कल पर टालने वाली आदत को छोड़ें। वर्तमान पल में ही जिएं।

10. एक समय में एक ही काम करें: मल्टी टास्किंग हमारे दिमाग़ के लिए हानिकारक है। इसलिए जब खाना खा रहे हों तो तब खाना ही खाएं।जब पढ़ रहे हों तब पढ़ाई ही करें। इस प्रकार अन्य काम भी हमें एक बार में एक ही करने चाहिए। (1)

दिमाग तेज करने की जड़ी बूटी

शंख पुष्‍पी से करें मेमोरी शार्प

दिमाग को बढ़ाने के साथ-साथ दिमाग में रक्त का सही सर्कुलेशन करके हमारी रचनात्मकता को भी बढ़ावा देता है।

यह जड़ी-बूटी हमारी याद करने की क्षमता और सीखने की क्षमता को भी बढ़ाती है। दिमाग को तेज करने के लिए आधे चम्मच शंख पुष्पी को एक कप गरम पानी में मिला कर लें।

जटामांसी (Spikenard) है दिमाग तेज करने की मेडिसिन

आयुर्वेद में जटामांसी का इस्तेमाल अनेक रोगों से मुक्ति के लिए किया जाता है क्योकि ये अनेक तरह के औषधिय गुणों से भरी होती है।

मस्तिष्क की क्षमता को बढाने के लिए तो इसे रामबाण इलाज माना जाता है। इससे ना सिर्फ दिमाग तेज होता है बल्कि याददाश्त भी तेज होती है।

इसका इस्तेमाल करने के लिए आप 1 कप गर्म दूध में, 1 चम्मच जटामांसी को अच्छी तरह मिला लें। उसके बाद आप इसका सेवन करें। आप इस उपाय को दिन में 2 बार अपनाएँ।

हल्दी से दिमाग को मजबूत करें

भारत के हर घर में प्रयोग होने वाली हल्दी न केवल कैंसर के इलाज में अचूक औषधि है बल्कि यह दिमाग को भी स्वस्थ रखने में मदद करती है।

कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध के अनुसार, हल्दी में कुरकुमीन नामक एक रसायन पाया जाता है जो की दिमाग की मृत या निष्क्रिय कोशिकाओं को सक्रीय करने में सहायक होता है।

ब्राह्मी है दिमाग तेज करने की आयुर्वेदिक दवा

इस शक्तिशाली जड़ी-बूटी को लगभग प्रत्येक शास्त्रीय आयुर्वेदिक ग्रंथ में ब्रेन की शक्ति बढ़ाने वाली औषधि के रुप में लेने की सलाह दी गई है।

आज ब्रेन के कार्य को बढ़ाने के लिए किसी भी आयुर्वेदिक टॉनिक में यह सबसे महत्वपूर्ण सामग्री होती है।

इस तरह यह जड़ी बूटी असरकारक है क्योंकि इससे तनाव व एंग्‍जाइटी से राहत मिलती है और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार आता है।

इसके साथ ही इससे नर्व सेल डेन्ड्राइट्स की लंबाई में वृद्धि द्वारा सीधे तौर पर मेमोरी, सीखने और ब्रेन के अन्य कार्यों को बढ़ावा मिलता है। (2)

दिमाग तेज करने की दवा पतंजलि

Dimag tej karne ki dawa patanjali: दिमाग को तेज करने के लिए, पतंजलि दिव्य की मेधा वटी आयुर्वेदिक और हर्बल दवा है। इसका उपयोग मस्तिष्क से संबंधित विकार जैसे स्मृति की कमजोरी, सिरदर्द, नींद न आना और मिर्गी के इलाज के लिए किया जाता है। दिव्या मेधा वटी अवसाद के प्रबंधन के साथ-साथ चिंता में भी सहायक है।

यह एक टैबलेट के रूप में जानी जाती है और इसे मौखिक रूप से लिया जाना है। इसका निर्माण पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड द्वारा किया गया है।

वे वनस्पति पदार्थों के काढ़े को घने घनत्व तक कम करके संसाधित किए जाते हैं और उसके बाद एक गोली द्रव्यमान बनाने के लिए कुछ पाउडर डालते हैं, कभी-कभी उन्हें शहद जोड़कर भी बनाया जाता है।

हालाँकि, पतंजलि दिव्य मेधा वटी का कोई दुष्प्रभाव इस दवा को लेते समय रोगियों द्वारा नहीं बताया गया है।

पतंजलि दिव्य की मेधा वटी अभी तुरंत ऑर्डर करें

मेमोरी पावर बढ़ाने के उपाय (Unlimited brain boost)

मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए आपको शारीरिक रूप से भी खुद को तंदुरुस्त रखना होगा। ये दोनों एक दूसरे पर निर्भर करते हैं। शरीर संतुष्ट रहेगा तभी आप अच्छे तरह से ध्यान लगा पाएंगे। इसलिए, कुछ अच्छी स्वास्थ्य आदतें:

मानसिक स्तर पर ये चीज़ें भी करें:

  1. कैलकुलेटर की जगह अपने दिमाग का इस्तेमाल करने की कोशिश करें। गणित तर्क और समस्या को सुलझाने के कौशल को मजबूत करने में मदद करता है। आप इसे आसानी से अभ्यास कर सकते हैं, जैसे जब आप किराने की दुकान में होते हैं। आप अपने कार्ट में कुल वस्तुओं का मोल मन में ही निकालने का प्रयास करें। आपको सटीक राशि नहीं मिलानी है; प्रत्येक वस्तु का निकटतम राशि जोड़ा करें। जब आप चेक-आउट के लिए जाएंगे, तो आपको पता चलेगा कि आप कितने करीब थे!
  2. नई नई चीज़ें सीखते रहिए, हमेशा एक नया और लाभदायक कौशल सीखते रहें। इससे आपके दिमाग की स्मृति में विकास होगा।
  3. अपनी मानसिक मांसपेशियों को लचक दें। पहेलियाँ बुझाना, शतरंज खेलना जैसी चीजें इसमें आपकी सहायता करेगी। मानसिक रूप से खुद को चुनौती देने से आपके तर्कसंगत सोच के कौशल को बढ़ाने में मदद मिल सकती है, जिससे आपको किसी भी स्थिति में समस्या को हल करने में अधिक आत्मविश्वास की अनुभूति होगी।
  4. अपनी सभी इंद्रियों का उपयोग करें। किसी भी स्थिति में अपने आसपास की जगहें, बदबू, स्वाद, भावनाओं और ध्वनियों को नोटिस करें, ताकि बाद में अधिक स्पष्ट रूप से घटना को याद करने में मदद मिल सके।
  5. रोजमर्रा के काम करने के लिए आप अपने विपरीत हाथ का उपयोग करने की कोशिश करें। यह वास्तविक रूप से चुनौतीपूर्ण होगा, खासकर यदि आप लेखन और मुद्रण का प्रयास करते हैं। लेकिन यह आपके मस्तिष्क के दोनों भागों को उलझाए रखने के लिए और आपके ध्यान को केंद्रित रखने को मजबूर करने का एक शानदार तरीका है।
  6. खुद पर विश्वास रखें। आप किसी से कम नहीं।

तो दोस्त, अगर आपको ये दिमाग तेज करने के उपाय पोस्ट आपके लिए काम का या फायदेमंद रहा या नहीं, COMMENT करके जरूर बताएं और पसंद आया हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा SHARE करिए।

इस पेज को SUBSCRIBE भी कर लीजिए, ताकि आगे आनेवाली शानदार और जानदार पोस्ट/लेख की सूचना आपको मिलती रहे.

This Post Has 6 Comments

Leave a Reply