सेब कब खाना चाहिए, सेब खाने के फायदे | Apple khane ke fayde

You are currently viewing सेब कब खाना चाहिए, सेब खाने के फायदे | Apple khane ke fayde

Apple khane ke fayde: आप सबने ये कहावत जरूर सुनी होगी की एक सेब रोज़ खाये और बीमारी को दूर भगाये। कहते हैं की रोजाना एक सेब खाने की आदत डॉक्टर को दूर रखती है जिसे चिकित्सा विज्ञान भी काफी हद तक सही मानता है। 

लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर एक सेब रोजाना डॉक्टर को  कैसे दूर रख सकता है?

वास्तव में, यह एक जादुई फल है जो एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन, फाइबर और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जिसकी दुनिया भर में उपलब्ध 7,500 से अधिक किस्मों के साथ पाए जाते हैं। 

यह फल न सिर्फ सेहत के लिए फायदेमंद होता है बल्कि पेट भरने में मदद करते हुए मिठास की इच्छा भी पूरी करता है।

तो जानिए कैसे रोजाना सिर्फ एक सेब खाने से आपको क्या क्या फायदा हो सकता है।

एक सेब में कितनी कैलोरी होती हैं

एक सेब से कितनी कैलोरी मिलती हैं: एक मध्यम आकार के सेब में 95 कैलोरी, 25 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 4 ग्राम फाइबर पाया जाता है।

सेब में कौन सी विटामिन पाई जाती है (Apple contains which vitamin)

Vitamin C की दैनिक आवश्यकता का 14%, विटामिन K की हर दिन ज़रूरत का 5% के साथ ही विटामिन ए, vitamin E, Vitamin B1, B2 और B6 इसमें अच्छा खासा मात्र में मौजूद होता है।

इसके अलावा कॉपर, मैंगनीज, पोटेशियम की प्रतिदिन ज़रूरत का 6% होता है। सेब पॉलीफेनोल्स का एक बेहतरीन स्रोत हैं, जो स्वास्थ्य के कई फायदे लिए एक यौगिक है।

सेब खाने के फायदे (What is the Benefits of eating apple In Hindi)

सेब खाने के फायदे (What is the Benefits of eating apple)- Apple khane ke fayde

सेब को छिलकों के साथ खाना ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि छिलकों में 50% फाइबर और ज्यादातर पॉलीफेनॉल्स मौजूद होते हैं।

Seb khane ke fayde वजन घटाने के लिए

सेब फाइबर और पानी से भरपूर फल है और ये दोनों ही पेट को लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराते हैं।

एक अध्ययन में पाया गया कि जो लोग खाने से पहले apple के टुकड़े/piece खाते थे, उनका पेट दूसरों की तुलना में अधिक समय तक भरा रहता था।

इसी अध्ययन में पाया गया कि जो लोग भोजन की शुरुआत में सेब खाते हैं, वे दूसरों की तुलना में औसतन 200 कम कैलोरी produce करते हैं।

ज्यादा जिस्मानी वजन की 50 गर्भवती महिलाओं पर 10 सप्ताह तक जारी रहने वाली एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि जो महिलाएं नियमित रूप से सेब खाती हैं उनका वजन दूसरों की तुलना में औसतन एक किलोग्राम अधिक कम हुआ।

इसके अलावा, सेब में कुछ प्राकृतिक यौगिक वजन घटाने में संभावित रूप से मददगार साबित होते हैं।

और पढ़ें: बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी

दिल को भी स्वस्थ रखने में मदद करें (Apple khane ke fayde)

सेब खाने की आदत और दिल की बीमारियाँ जैसे हार्ट अटैक, और फ़ालिज आदि के खतरे को कम करने के बीच संबंध का पता चला है।

इसका एक कारण सेब में घुलनशील फाइबर की उपस्थिति है जो blood में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

इसी तरह, पॉलीफेनोल्स एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव वाले यौगिक होते हैं, विशेष रूप से फ्लेवोनोइड्स नामक पॉलीफेनोल्स ब्लड प्रेशर के लेवल को कम कर सकता है।

शोध रिपोर्टों के विश्लेषण में पाया गया कि भोजन में फ्लेवोनोइड्स का अधिक सेवन फ़ालिज(stroke) के जोखिम को 20% तक कम कर सकता है।

Flavonoids- blood pressure, हानिकारक कोलेस्ट्रॉल और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करके हृदय रोग को रोकने में मदद करते हैं।

एक दूसरे अध्ययन में पाया गया कि हर दिन एक सेब खाने से cholesterol के स्तर को कम करने के लिए उपयोग की जाने वाली दवाओं के समान प्रभाव पड़ता है, जिसका मतलब, ये फल हृदय रोग से मरने के खतरे को कम करने के लिए दवा के रूप में असरदायक हो सकता है।

मधुमेह के खतरे को कम करना (सेब खाने के फायदे)

कई शोध रिपोर्टों ने सुझाव दिया है कि एक सेब का आनंद लेने से टाइप 2 डायबिटीज होने के खतरा को कम कर सकता है।

एक प्रमुख स्टडी में पाया गया कि एक सेब खाने से type 2 diabetes का खतरा 28% कम हो जाता है, और यहां तक ​​कि एक सप्ताह में कुछ सेब खाने से भी समान लाभ हासिल किया जा सकता है।

यह संभव है कि सेब में मौजूद पॉलीफेनोल्स अग्न्याशय(Pancreas) में बीटा सेल के ऊतकों को क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं। ये बीटा कोशिकाएं शरीर के लिए इंसुलिन बनाती हैं, और ये cells, टाइप 2 मधुमेह के शिकार लोगों में उन सेल्स को नुकसान पहुँच चुका होता है।

पेट में मौजूद सेहत के लिए लाभकारी बैक्टीरीया की वृद्धि

सेब में फाइबर का एक प्रकार पेस्टीन होता है जो प्रोबायोटिक की तरह काम करता है, जो पेट में मौजूद बैक्टीरिया के लिए भोजन साबित होता है।

छोटी आंत इस फाइबर को पचा नहीं पाती है और यह फाइबर colon में पहुंच जाता है, जहां यह फायदेमंद बैक्टीरिया के विकास को तेज करता है।

रिसर्च रिपोर्ट्स के मुताबिक शायद यही वजह है कि सेब के सेवन से मोटापा, टाइप 2 डायबिटीज और दिल की बीमारी को रोकने में मदद मिलती है।

खाली पेट सेब खाने के फायदे दे कैंसर से बचाव (benefits of eating apple on empty stomach)

टेस्ट ट्यूब अनुसंधान रिपोर्टों में सेब में उपस्थित वनस्पति यौगिकों और कैंसर के खतरे में कमी के बीच एक कड़ी को दिखाया है।

इसी तरह महिलाओं पर होने वाली एक अध्ययन में पाया गया कि सेब खाने से कैंसर से मरने का खतरा कम होता है।

वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि इस फल के एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव कैंसर से बचाव में भूमिका निभाते हैं।

ये भी पढ़ें: छाती के कैंसर के लक्षण

अस्थमा से लड़ने में मदद करें (Apple khane ke fayde)

antioxidant से भरपूर सेब फेफड़ों को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाने में मदद कर सकते हैं।

68,000 से अधिक महिलाओं के एक अध्ययन में पाया गया कि जिन महिलाओं ने अधिक सेब खाया, उनमें अस्थमा का खतरा कम था।

रोजाना एक बड़ा सेब खाने से इस बीमारी का खतरा 10% तक कम हो सकता है।

सेब के छिलके में फ्लेवोनोइड्स प्रतिरक्षा प्रणाली(Immune system) को रेगुलेट करने और सूजन को कम करने में मदद देता है, ये दोनों ही दम्मा(asthma) और एलर्जी की रोकथाम में मददगार साबित होते हैं।

हड्डियों को मजबूत करें (सेब के फायदे)

ये फल खाने से हड्डियों का घनत्व बढ़ता है। शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि सेब में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी यौगिक हड्डियों की मजबूती और density को बेहतर बनाते हैं।

कुछ शोध रिपोर्टों से पता चला है कि सेब खाने से हड्डियों के स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

एक अध्ययन में पाया गया कि सेब खाने वाली महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की कमी दूसरों की तुलना में कम था।

मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी उपयोगी (khali pet seb khane ke fayde)

सेब का जूस उम्र बढ़ने के कारण मानसिक गिरावट को रोकने में मददगार हो सकता है।

जानवरों पर होने वाली एक study में पाया गया कि सेब का रस दिमागी टिसूज में जमा होने वाली हानिकारक ऐक्टिव ऑक्सीजन स्पेसेज की दर को कम करता है और मस्तिष्क के अध:पतन के जोखिम को कम करते हैं।

सेब का रस एक brain ट्रांसमीटर एसिटाइलकोलाइन को भी बचाता है, जो उम्र के साथ घटता जाता है, जिसकी कमी अल्जाइमर रोग के जोखिम को भी बढ़ाती है।

इसी तरह शोधकर्ताओं ने चूहों पर किए गए एक अध्ययन में पाया कि जिन जानवरों को चूहे खिलाए गए, उनकी याददाश्त नौजवानी की तरह हो गई।

यानी फल में भी वही यौगिक होते हैं जो apple juice में होते हैं, और जूस की तुलना में  फल खाना बेहतर होता है, क्योंकि यह शरीर को अन्य लाभ भी देता है, जिनका जिक्र ऊपर किया गया है।

सेब खाने का सही समय / सेब कब खाना चाहिए

दोस्तों सेब खाने का सही फायदा शरीर की मिलने के लिये इसे हमेशा सुबह खाली पेट खाना चाहिए। क्योंकी उस समय खाए जाने वाली चीज़ों का हमारे शरीर पर जल्दी असर पड़ता है।

हालांके दिन के समय भूख लगने पर snacks के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

और पढ़ें: अमृत के जैसा है लहसुन खाली पेट खाना

सेब की तासीर कैसी होती है/सेब ठंडा होता है या गरम

सेब की तासीर ठंडी होती है। इससे ठंडी में ज्यादा खाने से खांसी, जुकाम के साथ पेट भी गड़बड़ हो सकता है।

रात में सेब खाने के फायदे

सेब स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता हैं। सेब से जुडी एक ख़ास कहावत है ‘An Apple a day keeps the doctor away’ तो बस रोज एक सेब सेहत के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता हैं।

परन्तु रात के वक़्त सेब का सेवन शरीर को नुकसान पहुंचाता है। साँस के रोगियों को रात के वक़्त सेब का बिलकुल भी सेवन नहीं करना चाहिए। सेब खाने के बाद बिलकुल भी पानी नहीं पीना चाहिए।

सेब खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही पानी का सेवन करना चाहिए वरना शरीर में कफ बनने लगेगा।

यहाँ क्लिक करके पढ़ें:

सूखी खांसी से तुरंत छुटकारा पाने का घरेलू इलाज

सुबह खाली पेट बादाम खाने से मिलते हैं ये फायदे

खून/हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण

अगर आपको मेरे द्वारा बताए हुए Apple khane ke fayde लेख पसंद आया है तो इसे SHARE करें साथ ही COMMENT और SUBSCRIBE भी करें। जिससे आने वाले जबरदस्त और शानदार जानकारी की सूचना(Notification) आपको मिल सके। 

स्वस्थ रहें, खुश रहें।

Leave a Reply