सूखी खांसी से तुरंत छुटकारा पाने का घरेलू इलाज | Khansi Ka Dawai

You are currently viewing सूखी खांसी से तुरंत छुटकारा पाने का घरेलू इलाज | Khansi Ka Dawai

Khansi Ka Dawai: सर्दी नजदीक आ रही है और हर घर में हर उम्र के लोग सूखी खांसी की वजह से गले में खराश, कफ खांसी, सर्दी, फ्लू और बुखार से पीड़ित नजर आते हैं।

सूखे मौसम में सबसे तक्लीफ़दह शिकायत, खांसी की होती है जिससे हर कोई जल्द से जल्द जान छुड़ाना चाहता है।

सूखी खांसी का इलाज करने से पहले इसके कारणों को जानना और फिर उसका इलाज जानना जरूरी है। विशेषज्ञों के अनुसार, सूखी खांसी आमतौर पर वायरल होती है, यह मौसम के बदलाव के दौरान प्रभावित करती है।

जबकि इसके अन्य कारणों में, शुष्क हवा में सांस लेना, नजला, जुकाम, सर्दी या किसी प्रकार की एलर्जी जैसे धूल से एलर्जी(Dust allergy) भी हो सकती है। 

सर्दी में शुष्क हवाओं के कारण होने वाले गले में खराश और खांसी से छुटकारा पाने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा होता है, जिसमें सिरप और गोलियों का उपयोग शामिल है। लेकिन ये दवाएं कुछ ही लोगों को फायदा देती हैं।

Dry Cough अन्य शिकायतों की तुलना में सबसे अधिक पीड़ादायक होती है, जिसके परिणामस्वरूप सीने, कमर और पसलियों में भी दर्द होता है, जबकि खांसी की शिद्दत के वजह से सिरदर्द आम बात है।

सूखी खांसी के कारण (Causes of Dry Cough)

सूखी खांसी के कारण (Causes of Dry Cough)-Khansi-Ka-Dawai

ये सूखी खांसी आमतौर पर वायरल होती है, जबकि अन्य कारण सर्दी और फ्लू या एलर्जी हो सकते हैं।

  • नाक और गले में एलर्जी भी सूखी खांसी की वजह हो सकती है।
  • सांस की बीमारी के कारण भी सूखी खांसी आती है। सांस की बीमारी में प्रमुख रूप से अस्थमा और टीबी की बीमारी है।
  • सर्दी, फ्लू या वायरल इन्फेक्शन हो जाए तो ये भी सूखी खांसी का कारण हो सकता है।
  • कुछ दवाओं के लगातार सेवन से भी सूखी खांसी की समस्या हो सकती है।

सूखी खांसी का अगर समय पर इलाज न किया जाए तो यह अस्थमा या कोई अन्य बड़ी बीमारी का कारण बन सकती है।

निरंतर खांसी का कारण क्या है

निरंतर खांसी आने के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- साधारण खांसी, कुकुर खांसी, अस्थमा, टी बी और कोरोनावायरस भी हो सकता है।

इसलिए बेहतर होगा कि आप किसी अच्छे चिकित्सक से अपनी जांच करा लें।

खांसी के घरेलू उपाय हिंदी (Cough Home Remedy in hindi )

khansi ka elaj: इस ठंडी में सूखी खाँसी से परेशान होने के बजाय, घर पर इस sukhi khansi ka ilaaj करने के लिए निम्नलिखित सरल तरीकों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

सर्दी खांसी की दवा (khansi ka dawai)

सर्दी खांसी की दवा का नाम/पुरानी से पुरानी खांसी की दवा: खांसी के घरेलू इलाज के लिए आपको घर मे उपलब्ध 3 चीजों की आवश्यकता है :-

  1. शुद्ध घी आधा चम्मच
  2. काली मिर्च 11 नग
  3. मिश्री के टुकड़े 1 चम्मच (अगर मिश्री उपलब्ध नही हो तो 1 चम्मच चीनी)

एक छोटे फ्राई पैन में आधा चम्मच शुद्ध घी डाल कर 1 मिनट गरम करें। घी गरम हो जाने पर उसे आंच से उतार कर उसमे 11 नग काली मिर्च डाल कर काली मिर्च को सेकें। थोड़ा सा ठंडा होने पर उसमे 1 चम्मच मिश्री या चीनी डाल दें। और गरम गरम खा लें।

मिश्रण बनाते समय निम्नलिखित सावधानी रखनी है।

  1. काली मिर्च घी में डालते समय घी इतना ज्यादा गरम नही होना चाहिए कि काली मिर्च जल जाए और इतना ठंडा भी नही होना चाहिए कि मिर्च कच्ची रह जाए।
  2. मिश्री या चीनी मिलाते समय घी बहोत गरम नही होना चाहिए नही तो मिश्री या चीनी पिघल जाएगी।

घरेलू दवाई (मिश्रण) को खाने के नियम

इस दवाई को रात में सोने के ठीक पहले खाना है। दवाई खाने के बाद कुछ भी खाना बिल्कुल मना है यहां तक कि पानी भी नही पीना है। यानि कि दवाई खाइये और चादर तान कर सो जाइये। ये खांसी के सीरप से जल्दी और अच्छे से ठीक करेगी।

चेतावनी – कितने समय तक दवाई खानी है ?

आमतौर पर थोड़ी पुरानी खांसी लगभग 5 से 7 दिन तक दवाई खाने से ठीक हो जाती है किंतु अगर खांसी बहोत पुरानी हो तो पूरी तरह से ठीक होने के लिए 1 महीने का समय भी लग सकता है।

ध्यान रहे कि थोड़ा सा आराम मिलने के बाद अगर आपने दवाई खाना बंद कर दिया तो खांसी फिर से लौट आएगी अतः जब तक खांसी पूरी तरह से ठीक ना हो जाये तब तक दवाई खाते रहें।

ये भी पढ़ें: 1 रात में पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे

खांसी का घरेलू इलाज (khansi ke liye gharelu upay)

  1. एक चिमटे की मदद से लौंग को सीधी आग में भून लें। भुनी लौंग हल्की सी फूल जाती है। (लौंग ज्याना न भूनें इससे वो जलकर राख हो जाती है।) एक बार में 3-4 भुनी लौंग चबा लीजिए। ये थोड़ी तीखी तो लगेगी लेकिन आपको महसूस होगा कि अगले ही मिनट खांसी कम हो जाएगी।
  2. एक कप पानी में ताजा अदरक का एक टुकड़ा डालकर उबालें फिर इसमें एक चाय का चम्मच शहद मिला दे। गरम-गरम पीलें फायदा होगा। आप अदरक की चाय भी तैयार कर सकते हैं इसका तरीका यह है पत्ती डालने से पहले अदरक के चार टुकड़े कुचलकर पानी में डालें ठंड लगने या बदहजमी की सूरत में यह चाय बहुत फायदेमंद है।
  3. गले और नाक को साफ करने के लिए आप घर में ही भाप ले सकते हैं। पानी को उबालकर उसमें एक चुटकी नमक डाल दें, अब अपने चेहरे को पतीले से एक निश्चित दूरी पर रखते हुए कोई तौलिया या चादर ओढ़कर अंदर की ओर सांस लें। खांसी और जुकाम को सही करने के लिए यह सबसे अच्छा घरेलू उपचार है। इससे आपकी नाक की नली और गला खुल जाएगा। दिन में 2-3 बार इस उपाय को करें।
  4. सूखी खांसी और गले की खराश को नियंत्रित करने के लिए गुनगुने पानी में नमक मिलाकर गरारे करने से बहुत फायदा होता है। गुनगुने पानी में डिस्पेरिन भी मिला सकते हैं, इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराना चाहिए।
  5. उबलते पानी का भाप लेना भी मददगार साबित होता है। रात को सोने से पहले भाप अवश्य लें।

ये जरूर पढ़ें; बाल झड़ने से रोकने और दोबारा उगाने के उपाय

खांसी का देसी इलाज (Khansi ka desi ilaj)

  1. गर्म दूध में शहद मिलाकर पीने से फेफड़ों का बलगम साफ होता है। 
  2. गंभीर खांसी में सांस लेना सबसे ज्यादा जरूरी है। तेजी से सांस लेने से खांसी और फेफड़ों में जमा बलगम को साफ करने में मदद नहीं मिलती है। धीरे-धीरे और गहरी सांस लेने से फेफड़ों की बंद नलिकाओं को खोलने और खून में आवश्यक मात्रा में oxygen पहुंचाने में मदद मिलती है।
  3. हर घर की रसोई में मौजूद गर्म मसालों में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो गले की खराश और खांसी में मदद करते हैं। इन गर्म मसालों को चाय के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है।
  4. इसके अलावा 4 दाने पिसी हुई काली मिर्च, 2 चम्मच शहद में मिलाकर दिन में 3 बार चाटें, ये जबरदस्त Khansi Ka Dawai है ।
  5. दो प्याज लेकर आग पर भून लें, जब इसका बाहरी छिलका जलकर काला हो जाए, तो छिलका उतार लें, अंदरूनी हिस्से को बहुत बारीक रगड़ कर छान लें और उसका पानी अलग से निकाल लें। फिर हम इसमें शहद मिलाते हैं। इस मिश्रण का एक-एक चम्मच सुबह-शाम रोगी को दें। हैरतअंगेज रूप से खांसी से राहत मिलेगी।
  6. सूखी खांसी से छुटकारा पाने के लिए पानी का use बार-बार और ज्यादा करें और जितना हो सके गुनगुने पेय का इस्तेमाल करते रहें। (1)

खांसी का घरेलू उपचार (khansi ka gharelu upchar)

  1. एक कप अंगूर का रस लें और अब उसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पी लें, यह खांसी का सबसे कारगर इलाज माना जाता है।
  2. बादाम की 6-7 गरी रात भर पानी में भिगो दें, सुबह छीलकर, चीनी और मक्खन के साथ पीसकर इस मिश्रण का सेवन करें, सूखी खांसी के लिए यह आजमाया हुआ नुस्खा है।
  3. हल्दी या गर्म पानी की भाप लेना भी फायदेमंद होता है।
  4. थोड़ी मात्रा में मुलेठी खाएं, इससे खांसी काफी हद तक कम हो जाएगी।
  5. कच्चा अमरूद खाने से भी सूखी खांसी में आराम मिलता है। कच्चे अमरूद को चूल्हे पर भून कर नमक लगाकर खालें, ये बेहतरीन खाँसी की दवा है। 
  6. नींबू चूसने से खांसी में बहुत जल्दी से आराम आता है, एक चौथाई नींबू लेकर उस पर नमक और पिसी काली मिर्च छिड़क कर चूसें, इससे खांसी में तुरंत relief मिलेगा।
  7. खांसी से राहत के लिए सबसे लोकप्रिय और आम घरेलू उपचारों में से एक है एक कप गर्म दूध में 1 से 2 चम्मच शहद मिलाएं और  गर्म गर्म दूध पी लें। सूखी खांसी ठीक हो जाएगी। ये khansi ke liye syrup के जैसे काम करता है।

तो Friends, Khansi Ka Dawai और इलाज जानकार आपको अगर अच्छा लगा, तो इसे जरूर SHARE करें। और आप इस साइट को FOLLOW और SUBSCRIBE जरूर करें, ताकि आपको इस ब्लॉग थोड़ाहटके पे आगे आने वाले जानदार और शानदार Articles/पोस्ट की सूचना पा सकें।

Leave a Reply