वो चीज जिनका उपयोग भयंकर बीमारियों से बचाए | दूध किसे नहीं पीना चाहिए

You are currently viewing वो चीज जिनका उपयोग भयंकर बीमारियों से बचाए | दूध किसे नहीं पीना चाहिए

दूध किसे नहीं पीना चाहिए: दूध और दुग्ध उत्पादों के अत्यधिक सेवन से दिल की धमनियों से जुड़े रोग का खतरा कम हो जाता है। अमेरिका में हुई एक नई मेडिकल स्टडी में यह बात सामने आई है।

शोध से पता चला है कि ज्यादा वसा वाले डेयरी उत्पादों के उपयोग से ह्रदय धमनियों सहित दिल का दौरा और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।

जॉन्स हॉपकिन्स ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में जॉर्ज इंस्टीट्यूट ऑफ ग्लोबल हेल्थ और स्वीडन के उप्साला विश्वविद्यालय के शोध से पता चला है कि दूध या इसके उत्पादों में वसा मृत्यु के जोखिम को नहीं बढ़ाता है बल्कि बीमारी के खतरे को कम करता है।

इस शोध में स्वीडन के 4,000 शहरियों के results को अन्य देशों में होने वाली 17 शोध रिपोर्टों से जोड़ा गया था।

इससे दूध या इनसे बनी उत्पादों के उपयोग, कोरोनरी हृदय रोग और मृत्यु के बीच की कड़ी के संबंध में अब तक के सबसे मजबूत सबूत सामने आए।

शोधकर्ताओं ने कहा कि दुनिया भर में दूध या दूग्ध उत्पादों का उपयोग बढ़ा है और इसलिए स्वास्थ्य पर उनके प्रभावों को बेहतर ढंग से समझना जरूरी है।

और पढ़ें: बादाम खाने के जबरदस्त फायदे

उन्होंने कहा कि, कई शोध रिपोर्ट में लोगों के बयानों पर निर्भर किया गया मगर हमने Dairy products में पाए जाने वाले कुछ फैटी एसिड के खून में संचय की जांच पड़ताल की गई।

उन्होंने कहा “हमने पाया कि फैटी एसिड की उच्च सांद्रता ने दिल की धमनियों से जुड़े रोग के जोखिम को काफी कम कर दिया है। यह संबंध बहुत दिलचस्प है, लेकिन इसकी पुष्टि के लिए और अधिक शोध की आवश्यकता है,” ।

अध्ययन के नतीजे मेडिकल जर्नल प्लस मेडिसिन में प्रकाशित हुए हैं।

इससे पहले जून 2021 में यूनिवर्सिटी ऑफ रीडिंग, साउथ ऑस्ट्रेलिया यूनिवर्सिटी और ऑकलैंड यूनिवर्सिटी के एक संयुक्त अध्ययन में पाया गया कि दूध पीने की आदत रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करती है, जिसके नतीजे में हृदय रोग से सुरक्षा मिलता है।

इस अध्ययन में U.K के लगभग 20 लाख वयस्कों के डेटा की जांच पड़ताल की गई थी।

Study में genetic technology का उपयोग करते हुए पाया गया कि दूध पीने वाले लोगों का वजन अधिक हो सकता है, लेकिन उनमें अच्छे और बुरे कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है, जबकि कोरोनरी हृदय रोग का जोखिम 14% तक कम हो जाता है।

शोध से पता चला है कि हालांकि दूध में वसा की मात्रा अधिक होती है, लेकिन इससे हृदय रोग का खतरा नहीं बढ़ता है, जिस तरह अन्य खाद्य पदार्थ जैसे red meat से बढ़ता है।

ये भी पढ़ें: बाल झड़ने से रोकने और दोबारा उगाने के उपाय

दूध किसे नहीं पीना चाहिए

दूध एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो सभी को पीना अच्छा लगता है। बच्चों के लिए दूध अमृत के समान है। दूध पीने से व्यक्ति जल्दी बूढ़ा नहीं होता। परंतु कुछ लोगों के लिए दूध पीना सेहत के लिए ठीक नहीं होता और कुछ लोगों के लिए अच्छा होता है।

आइए जानते हैं , दूध किसे नहीं पीना चाहिए –

  • जो लोग वात प्रवृत्ति के हैं और पित्त प्रवृत्ति के है दूध उनके लिए अमृत के समान हैं और जो लोग कफ प्रवृत्ति के है अर्थात जिन्हें सांस से संबंधित कोई बीमारी है, जिन्हें छींके आती हैं ,जिनका थायराइड बढ़ा हुआ है,कोलस्ट्रोल बढ़ा हुआ है उनके लिए दूध पीना अच्छा नहीं होता।
  • परंतु जो लोग मेहनत अधिक करते हैं, धूप में काम करते हैं ,जिन्हें जोड़ों से संबंधित कोई बीमारी है, जिनके शरीर में गर्मी अधिक है, जो लोग दिमागी काम अधिक करते हैं ,उन लोगों के लिए दूध पीना अच्छा होता है।बढ़ते बच्चों के लिए तो दूध अमृत के समान है।
  • जिसकी पाचनशक्ति कमजोर हो, उसे दूध नहीं पीना चाहिए।

तो दोस्त, अगर आपको ये दूध और उससे बने products के फायदे और दूध किसे नहीं पीना चाहिए लेख आपको अच्छा लगा तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करिए।

इस पेज को FOLLOW और SUBSCRIBE भी कर लीजिए, ताकि आगे आनेवाली शानदार और जानदार पोस्ट/लेख की सूचना आपको मिलती रहे

This Post Has One Comment

Leave a Reply