अंजीर के 35 गजब फायदे जो करे 100 रोग दूर-Anjeer Ke Fayde

You are currently viewing अंजीर के 35 गजब फायदे जो करे 100 रोग दूर-Anjeer Ke Fayde

Anjeer ke fayde: अंजीर एक ऐसा फल है जो जितना मीठा है,उतना ही लाभदायक भी है। अंजीर के सूखे फल बहुत गुणकारी होते हैं। मजेदार बात यह है कि, प्राचीन ग्रीक और रोमन इतिहास में भी इसका उल्लेख है।

उस समय, इस फल को समृद्धि, बांझपन से सुरक्षा और प्रचुर मात्रा में जीविका का प्रतीक माना जाता था।

अंजीर (अंग्रेजी नाम:- फिग, वानस्पतिक नाम: -“फ़िकस कैरिका” है यह एक वृक्ष का फल है जो पक कर गिर जाता है। पके फल को लोग खाते हैं। सुखाया फल अंजीर के नाम से बाजार में बिकता है।

सूखे फल को टुकड़े-टुकड़े करके या पीसकर दूध और चीनी के साथ खाते हैं। इसका स्वादिष्ट जैम अर्थात फल के टुकड़ों का मुरब्बा भी बनाया जाता है, जो बहुत स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है।

अंजीर स्वादिष्ट, मीठे स्वादवाला, नाशपाती के आकार का रसदार फल है। आयुर्वेद के अनुसार, अंजीर वात और पित्त को संतुलित करने में मदद करता है। इसमें मूत्रवर्धक, रेचक और कफनिःसारक गुण होते है।

अंजीर चाहे ताजा खाया जाए या सुखाकर खाया जाए, कई लाभकारी तत्वों से भरपूर यह gift कई बीमारियों से बचाने में मदद कर सकता है।

Table of Contents

अंजीर/Anjir(Fig) में पाए जाये वाले पोषक तत्व (Fig Nutrition)

  • प्रोटीन 5.5%
  • सेल्ल्योज 7.3%
  • कार्बोहाइड्रेट 63%
  • चिकनाई 1%
  • मिनरल साल्ट 3%
  • पानी 20.
  • एसिड 1.2%
  • फैट 0.5%
  • कोलेस्ट्रोल 0%

इसके अलावा इसमें विटामिन A, विटामिन B1, विटामिन B2, कैल्शियम, मैगनीस, फाइबर, फोस्फोरस, आयरन, क्लोरिन, सोडियम, पोटेशियम व गोंद भी पाया जाता है।

स्वास्थ के लिए अंजीर को बहुत अच्छा माना जाता है, अंजीर में 28% से ज्यादा फाइबर होता है जो high glucose व हाई कोलेस्ट्रोल लेवल को control करता है, इससे वजन भी कंट्रोल होता है। 

अंजीर का रंग जितना गहरा होगा वह उतना अधिक फायदेमंद होता है। 

अंजीर के फायदे (Fig Benefits In Hindi)

यह फल कई मायनों में फायदेमंद है और सामान्य स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाता है, जिसके कुछ फायदे इस प्रकार हैं।

डायबिटीज़ और शुगर से छुटकारा

शोध के अनुसार अमेरिकन डायबिटीज सोसायटी ने अंजीर का उपयोग करने का सुझाव दिया है और अंजीर में पोटेशियम मधुमेह को अवशोषित करने में बहुत सहायक है।

जबकि अंजीर के उपयोग से कोलेस्ट्रॉल भी कम होता है क्योंकि इसमें टेक्टन नामक पदार्थ होता है, जो पानी में घुलनशील फाइबर से ताल्लुक रखता है।

बवासीर में उपयोगी(Anjeer Uses to Get Relief from Piles in Hindi)

अंजीर प्राकृतिक फाइबर से भरपूर होता है जो बवासीर के इलाज में मददगार होता है।

बांझपन संरक्षण

यह पुरुषों और महिलाओं दोनों को बांझपन से बचाता है। चिकित्सा विज्ञान के अनुसार, इस फल में खनिज हार्मोन के लिए आवश्यक हैं जो बांझपन को रोकने में मदद करते हैं।

पाचन तंत्र के लिए सर्वश्रेष्ठ(Benefits of Anjeer Fruit in Indigestion  Treatment in Hindi)

अंजीर का सेवन गैस्ट्रिक एसिड को अल्कोहल में बदल देता है, इसलिए जो लोग गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रोगों जैसे एसिडिटी, अपच और क्रोहन रोग से पीड़ित हैं, उनके लिए अंजीर खाना फायदेमंद होता है।

अंजीर को रात में कुछ हफ्तों के लिए पानी में भिगो दें। नाश्ता एक बहुत ही महत्वपूर्ण भोजन है – यह आपका दिन बना या बिगाड़ सकता है।

कब्ज दूर करे (Anjeer Benefits in Fighting with Constipation in Hindi)

शोध के अनुसार, ताजे अंजीर के सेवन से कब्ज नहीं होता है, जबकि 150 लोगों पर किए गए एक प्रयोग में पाया गया कि जो लोग दिन में 8 अंजीर खाते हैं, उनमें कब्ज और पेट की समस्या होने की संभावना उन लोगों की तुलना में कम होती है जो अंजीर बिल्कुल नहीं खाते हैं।

हृदय रोग से बचाव (Benefits of Anjeer in Heart Disease in Hindi)

अंजीर में मौजूद फिनोल, ओमेगा-3 और ओमेगा-3 फैटी एसिड रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ रखते हैं, फैटी एसिड हृदय रोग के जोखिम को कम करते हैं और दिल के दौरे से बचाते हैं।

शारीरिक ऊर्जा और नसों के लिए

अंजीर में एक प्राकृतिक Vitamin B-complex होता है जो तंत्रिकाओं के साथ-साथ शरीर की ऊर्जा के लिए भी आवश्यक होता है, क्योंकि इसकी कमी से हीमोग्लोबिन की कमी हो सकती है। शरीर थकान का शिकार हो जाता है और अक्सर चक्कर आने लगता है।

हड्डियों की मजबूती

अन्य कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थों के साथ अंजीर का उपयोग करने से हड्डियां मजबूत होती हैं। एक सूखे अंजीर में कैल्शियम की दैनिक आवश्यकता का 3% होता है।

वजन घटना (Benefits of Anjir In Weight Loss)

पोषण विशेषज्ञों ने बताया है कि अंजीर का सेवन वजन घटाने में मदद करता है और इसका अधिक सेवन ठीक नहीं है, वहीं अंजीर मधुमेह को भी नियंत्रित करता है।

सफेद दाग

1. अंजीर के कच्चे फलों से दूध निकालकर सफेद दागों पर लगातार 4 महीने तक लगाने से यह दाग मिट जाते हैं।

2. इसके पत्तों का रस सफेद दाग पर सुबह और शाम को लगाने से लाभ होता है।

3. अंजीर को घिसकर नींबू के रस में मिलाकर सफेद दाग पर लगाने से लाभ होता है।

4. इसके पेड़ की छाल को पानी के साथ पीस लें, फिर उसमें 4 गुना घी डालकर गर्म करें इसे हरताल की भस्म के साथ सेवन करने से श्वेत कुष्ठ मिटता है।

रक्तचाप में कमी (Anjeer ke fayde)

उच्च रक्तचाप वाले लोगों के शरीर में सोडियम और पोटेशियम का स्तर संतुलित नहीं होता है और इस संतुलन को बहाल करने में अंजीर का उपयोग बहुत उपयोगी साबित हुआ है। पोटेशियम से भरपूर अंजीर रक्तचाप को कम कर सकते हैं

शुगर की लत से छुटकारा पाने में मदद करें

यदि आप चीनी या मिठाई पसंद करते हैं, तो अंजीर एक स्वस्थ विकल्प हो सकता है, उनके पास बहुत सारे प्राकृतिक मिठास हैं जो अधिक कैलोरी जलाने के साथ-साथ कुछ मिठाई खाने की इच्छा को नियंत्रित करने में मदद करेंगे।

अंजीर के फायदे in Hindi (Anjeer Ke Fayde)

यह कमजोर और दुबले लोगों के लिए बहुत बड़ा वरदान अंजीर जिस्म को मोटा और सुडौल बनाता है। चेहरे को लाल और गोरा रंग देता है अंजीर का शुमार आम और लोकप्रिय फलों में होता है।

फ्रिज में रखने पर ये शाम तक फैट जाता है। इसे इस्तेमाल करने का सबसे अच्छा तरीका है इसे सुखाना।

सुखाने के दौरान, इसे कीटाणुरहित करने के लिए सल्फर से धोया जाता है और अंत में खारे पानी में डुबोया जाता है ताकि सूखने के बाद नरम अंजीर का स्वाद अच्छा हो। 

इसलिए यह सभी उम्र के लोगों के बीच पसंद किया जाता है। अंजीर में प्रोटीन, खनिज, शर्करा, कैल्शियम और फास्फोरस होते हैं।

सूखे और गीले दोनों अंजीर विटामिन ए और सी से भरपूर होते हैं। विटामिन बी और डी कम मात्रा में होते हैं।

इसको खाली पेट/बासी मुंह खाने के बहुत फायदे हैं। 

अंजीर को दूध में खाने के फायदे(anjeer benefits in hindi)

  • इसको दूध में उबालकर पीने से खून बढ़ता है तथा कब्ज व बवासीर में आराम मिलता है । 
  • Anjeer को दूध में उबालकर फोड़े पर बांधने से फोड़े जल्दी फट जाते हैं। 
  • अंजीर का दूध के साथ सेवन करने से रंगत निखरती है और शरीर मोटा होता है। 
  • Anjir के कच्चे फलों से दूध निकालकर सफेद दागों पर लगातार 4 महीने तक लगाने से यह दाग मिट जाते हैं।

अंजीर के फायदे इन प्रेगनेंसी (Anjeer ke fayde hindi me)

गर्भावस्था में अंजीर खाने के क्या फायदे इस प्रकार हैं ।

गर्भवती महिलाओं अंजीर को दूध में उबालकर लेने से शरीर में लौह तत्व की कमी दूर होती है, जीवन शक्ति बढ़ती है। वहीं यह नुस्‍खा पुरुष भी आजमा सकते हैं क्‍योंकि इसे पीने से यौनशक्ति बढ़ती है।

शरीर में आयरन की कमी होने पर एनीमिया होता है। अगर समय रहते इसका इलाज न किया जाए, तो यह बीमारी प्राणघातक साबित हो सकती है।

सूखी अंजीर को आयरन का प्रमुख स्रोत माना गया है। इसके सेवन से शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है।

गर्भावस्था के समय कई महिलाएं एनीमिया की शिकार हो जाती हैं। इससे उन्हें कई तरह की शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

वहीं, अगर कोई बीमार है या फिर किसी तरह की सर्जरी हुई है, उस अवस्था में भी एनीमिया हो सकता है।

इससे बचने के लिए अंजीर को अपनी डायट में शामिल करना चाहिए। अंजीर के सेवन से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ती है और शरीर किसी भी तरह की बीमारी से लड़ने में सक्षम हो जाता है

अंजीर के 5 से 6 पीस रोज खाने से कमजोरी दूर करता है और गर्भवती महिलाओं को जरूरी पोषण देता है इसके अलावा होने बाले बच्चे healthy होता है।

अंजीर कई सेहतमंद गुणों से भरपूर है, लेकिन Pregnancy एक ऐसा नाजुक दौर होता है, जिसमें क्या खाना फायदेमंद है, इसको लेकर असमंजस की स्थिति बनी ही रहती है।

वहीं, जब बात अंजीर की आती है, तो इसमें मौजूद विटामिन, कैल्शियम और फाइबर जैसे पोषक तत्व की वजह से इसे गर्भावस्था के दौरान खाया जा सकता है ।

खासकर, इसमें मौजूद फाइबर गर्भवतियों में होने वाली कब्ज की समस्या को दूर करने में मदद कर सकता है । अगर आपको इस फल से किसी तरह की एलर्जी है, तो इसे खाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

गर्भवती महिलाएं एक दिन में कितने अंजीर खा सकती हैं?

अंजीर गर्म तासीर के होते हैं, इसलिए इसका सेवन तय मात्रा से अधिक नहीं किया जाना चाहिए।

सामान्य रूप से रोजाना तीन से अधिक अंजीर खाने की सलाह दी जाती है, लेकिन गर्भावस्था के दौरान अंजीर की कितनी मात्रा सही रहेगी यह कोई अनुभवी डॉक्टर ही बता सकता है।

आपको अपनी प्रेग्नेंसी और अपने स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ही इसका सेवन करना चाहिए।

अंजीर सेहत के लिए फायदेमंद ही नहीं नुकसानदायक भी साबित हो सकती है। यह पौष्टिक फल आपकी प्रेग्नेंसी के लिए कैसे हानिकारक हो सकता है।

ये काफी पौष्टिक फल है। वैसे तो इसे खाने से कोई नुकसान नहीं होता, लेकिन गर्भावस्था के दौरान इसका अत्यधिक सेवन कई शारीरिक परेशानियों का कारण बन सकता है-

अंजीर में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो एक कारगर लैक्सेटिव की तरह काम करता है, लेकिन इसके अधिक सेवन से दस्त के साथ ही पेट में ऐंठन और दर्द की समस्या भी हो सकती है।

इसमें पोटैशियम भी ज्यादा होता है, इसलिए आपको हाइपरकलेमिया (शरीर में अत्यधिक पोटैशियम) हो सकता है

अंजीर के ज्यादा सेवन से आपको माइग्रेन भी हो सकता है। 

गर्भवती महिलाएं से अनुरोध करता हुँ की अंजीर खाने से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर ले।

पुरुषों के लिए अंजीर लाभ(anjeer benefits in hindi)

पुरुषों के लिए अंजीर सबसे ज्यादा लाभकारी यौन समस्याओं से छुटकारा दिलाने में लाभप्रद है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से फर्टिलिटी बढ़ता है और इनफर्टिलिटी से छुटकारा मिलता है।

हालांकि ये केवल पुरुषों के लिए ही नहीं बल्कि महिलाओं के लिए भी लाभप्रद है।

यौन क्षमता बढ़ाए (Anjeer ke fayde)

प्राचीन विज्ञान के अनुसार, यूनानियों ने ऊर्जा बढ़ाने के लिए अंजीर का उपयोग किया था, और आज आधुनिक चिकित्सा विज्ञान ने दिखाया है कि अंजीर प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है, क्योंकि वे जस्ता, मैग्नीशियम और पोटैशियम जैसे खनिजों से भरपूर होते हैं।

अंजीर मर्दाना ताकत (कमजोरी)

पके अंजीर को बराबर की मात्रा में सौंफ के साथ चबा-चबाकर सेवन करें. इसका सेवन 40 दिनों तक नियमित करने से शारीरिक दुर्बलता दूर हो जाती है.

अंजीर को दूध में उबालकर-उबाला हुआ अंजीर खाकर वही दूध पीने से शक्ति में वृद्धि होती है तथा खून भी बढ़ता है.” (1)

अंजीर को कैसे खाना चाहिए

इसको कैसे खाया जाता है ये इस पर भी निर्भर करता है की आप कौन सी बीमारी के इलाज के लिए इसका प्रयोग कर रहे है।

  • ताजा अंजीर में कैलोरी कम मात्रा में होती है और सुख जाने के बाद इसमें शुगर की मात्रा अधिक हो जाती है।
  • सूखे अंजीर का सेवन कर रहे है तो रात को 2 – 3 अंजीर पानी में भिगो दे और सुबह ये भीगे अंजीर खाएं।
  • आप अगर ताजे अंजीर खा रहे है तो इसको कम मात्रा में ही खाये।
  • अंजीर के साथ 5 मुनक्के, 1–1ग्राम जीरा, सौंफ मिलाकर रात में 100 पानी में गलाकर, सुबह थोड़ा उबाल लें। फिर, सबको अच्छी तरह मसलकर छान लेवें और सुबह खाली पेट पियें। यह लिवर से सम्बंधित अनेक रोगों की बेहतरीन औषधि है।
  • पेट में जलन हो, कब्ज हो, एसिडिटी हो या पित्तदोष की परेशानी हो, तो दो अंजीर 5 मुनक्का 200 ML दूध में 100 ग्रान पानी डालकर मंदी आंच में इतना पकाएं कि 150 ML दूध शेष बचे। गुनगुना होने पर अंजीर-मुनक्का खाते जाएं और दूध पियें। सुबह खाली पेट लेवें। 15 दिन के प्रयोग से पेट दर्द दूर होकर पाचनतंत्र मजबूत होने लगेगा। कफ गलकर मल द्वारा निकल जायेगा।
  • तीसरा तरीका यह है कि अंजीर को अच्छी तरह चबाकर खाएं और ऊपर से पानी खूब पियें। घबराहट, बेचैनी, गैस विकार, ह्रदय की कमजोरी दूर हो जाएगी।

भीगे अंजीर खाने के फायदे (Anjeer ke fayde)

सूखे अंजीर को अगर रात भर पानी में छोड़ दिया जाए तो वे ताजे अंजीर की तरह फूल जाएगा। इसे खाने से गल बैठ जाना या बंद हो जाने की बीमारी पैदा नही होती। 

अंजीर को पानी में भिगोकर रखें। कुछ घंटे बाद फूल जाने पर दिन में दो बार खाएं, पुरानी क़ब्ज भी दूर हो जाती है। 

सूखे अंजीर खाने के फायदे (Anjeer ke fayde)

  • Dry(सूखे)अंजीर में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट विटामिन जैसे विटामिन-ए, ई और के होते है। वे शरीर की हानिकारक फ्री रेडिकल्स से रक्षा कर मधुमेह, अपक्षयी रोगों और संक्रमणों से बचाव करने में सहायता करते है।
  • ठंड के दिनों में सूखे अंजीर बच्चों को दें तो यह उनके विकास के लिए बहुत उपयोगी होता है। 
  • सूखे अंजीर मूत्र पथरी और अन्य मूत्र स्थितियों के इलाज में उपयोगी है। यह हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए शाकाहारी लोगों के लिए कैल्शियम का एक समृद्ध स्रोत है।

Anjir ke fayde in hindi

  • अंजीर में मौजूद क्लोरोजेनिक एसिड रक्त शर्करा कम करने और मधुमेह में लाभ में मदद करता है।
  • अंजीर में शरीर में कैंसर के सेल्स फैलने से रोकने वाला तत्व पाया जाता है। वैज्ञानिकों का ऐसा दावा है कि इसके सेवन से कैंसर जैसी बीमारी से बचा जा सकता है।
  • एंटीऑक्सिडेंट और आवश्यक खनिजों से युक्त अंजीर का उपयोग मस्से, मुँहासे, मेलेनिन अधिकता में और त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए किया जाता है।
  • अंजीर का पेस्ट स्किन पिगमेंटेशन और अन्य त्वचा संबंधी विकारों के इलाज के लिए भी बहुत अच्छा है और इस के कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं है।
  • जिंक, मैंगनीज, मैग्नीशियम और आयरन से भरपूर, अंजीर पुरुषों और महिलाओं दोनों के प्रजनन स्वास्थ्य को बढ़ाता है। कुछ अध्ययनों का दावा है कि यह स्तंभन दोष को ठीक करने में भी मदद करता है, जबकि कुछ का कहना है कि रजोनिवृत्ति के दौरान महिलाओं को अंजीर का सेवन करना चाहिए।
  • कम वजन और मानसिक रूप से सक्रिय लोगों के लिए अंजीर एक बेहतरीन तोहफा है। 
  • अंजीर खाने से व्यक्ति को मांसपेशियों के दर्द से बचाव होता है। 
  • भोजन के बाद कुछ अंजीर खाने से न केवल पोषण मिलता है बल्कि कब्ज भी दूर होता है। 
  • अंजीर खाने से सांसों की बदबू दूर होती है। 
  • इसके नियमित इस्तेमाल से सर के बाल लंबे होते हैं
  • अंजीर को सिरके में डालें। एक सप्ताह बाद दो-तीन अंजीर खाने से तिल्ली ठीक हो जाती है। 
  • जिन लोगों को पसीना नहीं आता उनके लिए अंजीर का सेवन फायदेमंद होता है। 
  • अंजीर लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है और गंदे जहरीले पदार्थों को निकालकर रक्त को साफ करता है। 
  • जिन लोगों को दिमागी कमजोरी होती है उन्हें नाश्ता इस तरह करना चाहिए कि वे पहले तीन या चार अंजीर खाएं, फिर सात बादाम, एक अखरोट की गिरी, एक छोटी इलायची को पीसकर पानी में मिश्री मिलाकर पी लें। 
  • कमर में दर्द हो तो रोजाना तीन-चार अंजीर खाने से दर्द से छुटकारा मिल जाता है। 
  • बवासीर होने पर अंजीर का सेवन बहुत लाभकारी होता है। इसके सेवन से पुरानी बवासीर भी दूर हो जाती है। ۔ 
  • मेथी के बीज और अंजीर को पानी में उबालकर शहद के साथ मिलाकर खाने से खांसी की में बहुत आराम मिलता है। (2)

अंजीर कब खाना चाहिए? (Anjeer ke fayde)

इसे खाने का सबसे अच्छा समय सुबह माना जाता है। सुबह के समय अंजीर खाना ज़्यादा फायदेमंद होता है, लेकिन आप चाहें तो इसे दिन में कभी भी खा सकते हैं।

इसकी तासीर गर्म होती है इसीलिए इसे जरूरत से ज्यादा बिल्कुल ना खाएं 2-3 अंजीर काफी है।

अंजीर से होने वाला नुकसान

  • एक सीमित मात्रा में ज्यादा से अंजीर का उपयोग खाने में करने से डायरिया की समस्या हो सकती है।
  • कुछ लोगों में इसके सेवन से एलर्जी की समस्या हो सकती है।
  • अंजीर के नुकसान के रूप में कभी कभार पेट में भारीपन और दर्द की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है।
  • कुछ लोगों में अंजीर का सेवन करने से नाक से खून आने की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  • कई बार इसके इस्तेमाल से लो शुगर भी हो सकता है।

 उम्मीद करता हूँ के आपको ये article, anjeer ke fayde जरूर पसंद आया होगा। इसे SHARE करें।

FOLLOW और SUBSCRIBE भी जरूर करलें, ताकि आपको आगे आनेवाली जबरदस्त और महत्वपूर्ण पोस्ट/लेख की जानकारी आपको मिल सके।

This Post Has 2 Comments

  1. Ravi

    Very impressive post.

    1. Nawgr8

      Thanks for the positive response

Leave a Reply