सफेद पानी का रामबाण इलाज | ल्यूकोरिया के कारण एवं लक्षण

You are currently viewing सफेद पानी का रामबाण इलाज | ल्यूकोरिया के कारण एवं लक्षण

सफेद पानी का रामबाण इलाज: आज हम बात करने वाले हैं, महिलाओं को होने वाली एक गुप्त प्रॉबलम ‘व्हाइट डिस्चार्ज‘ (White Discharge) के बारे में, जिसे medical science की लैंग्वेज में ‘ल्यूकोरिया‘ (Leucorrhoea) और आयुर्वेद में इसे श्‍वेद प्रदर कहा जाता है।

सामान्यतः इसे सरल भाषा में सफेद पानी की समस्या भी कहा जाता है।

Vagina(योनि) से सफेद, चिपचिपा और बदबूदार डिस्‍चार्ज आना लिकोरिया कहलाता है। निजी अंगों की साफ-सफाई न रखने और यौन मार्ग में संक्रमण आदि की वजह से योनि से सफेद पानी आने लगता है।

इस लेख में आगे आपको ल्यूकोरिया को जड़ से खत्म  करने और सफेद पानी का रामबाण इलाज की बहुत ही बढ़िया और असरदार आयुर्वेदिक दवा tablet के बारे में बताऊँगा।

Table of Contents

ल्यूकोरिया के लक्षण (Leucorrhoea Symptoms in Hindi)

  • गाढ़ा पीला या सफेद दही जैसा वाइट डिस्चार्ज
  • योनिमार्ग में तीव्र खुजली एवं चुनचुनाहट होना
  • कमर में दर्द रहना
  • कमजोरी महसूस होना
  • चिड़चिड़ापन एवं चक्कर आना
  • बार-बार पेशाब आना और कभी थोड़ा जलन भी होना
  • पेट में भारीपन बना रहना
  • थकान
  • पेट में ऐंठन या दर्द
  • पिंडलियों में खिंचाव

सफेद पानी क्यों आता है (white discharge reasons in females)

सफेद पानी क्यों आता है (white discharge reasons in females)-श्वेत प्रदर के कारण (Causes of Leukorrhea in Hindi)

जो महिलाएं ज्यादातर असंतुलित भोजन, अधिक मात्रा में खट्टे, चटपटे, मसालेदार, तीखा, ऑयली, नमकीन तथा मांस-मछली वगैरह का अधिक सेवन करती हैं, उनको सफेद पानी आने की संभावना ज्यादा रहती है।

इसके अलावा यह vaginal hygiene की अस्वच्छता, हीमोग्लोबिन की कमी और पोषक तत्वों की कमी से भी होता है।

श्वेत प्रदर के कारण (Causes of Leukorrhea in Hindi)

महिलाओं में लिकोरिया क्यों होता है: इस रोग के लिये मुख्यतः बैक्टेरिया tricamosa जिम्मेदार होता हैं, जो निम्न कारणों से फैलता हैं:-

1. हाजमे की खराबी जैसे कब्ज़ हो जाना

2. माहवारी के दौरान संक्रमित सैनेटरी पैड का इस्तेमाल

3. संक्रमित व्यक्ति के साथ यौन संबंध

4.बार-बार गर्भ गिराना व गिर जाना

5. शादी के बाद शरीर में पोषक तत्वों की कमी

6. ज्यादा संभोग करना

7. योनि की उचित साफ-सफाई की कमी

8. खून की कमी हो जाना

9. जवान लड़कियों में तनाव या सदमे के कारण हार्मोन असंतुलित हो जाना

10. रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होना

11. धूम्रपान या शराब पीना

श्वेत प्रदर/ल्यूकोरिया के प्रकार (Leucorrhoea Types in Hindi)

ल्यूकोरिया सामान्य रूप से पांच प्रकार का होता है:-

  1. श्वेत प्रदर का पहला प्रकार नॉर्मल होता है जो पीरियड्स के बाद आता है और चला जाता है।
  2. इसका दूसरा प्रकार सेक्स से होने वाले इन्फेक्शन के कारण होता है।
  3. तीसरा प्रकार बच्चेदानी के अन्दर दाना होने के वजह से होता है।
  4. चौथा प्रकार बच्चेदानी में कैंसर के कारण होता है।
  5. और पाँचवा प्रकार बच्चेदानी के मुंह में होने वाली सूजन की वजह से होती है।

सफेद पानी का रामबाण इलाज (Treatment of White Discharge In Hindi)

सफेद पानी का रामबाण इलाज (Treatment of White Discharge In Hindi)-सफेद पानी की दवा tablet

आसानी से उपलब्ध घरेलू वस्तुओं के साथ सफेद पानी से छुटकारा के लिए कुछ प्रभावी घरेलू उपचार हैं:

आंवला करे सफेद पानी का इलाज

आंवला सफेद पानी के लिए एक अद्भुत उपाय के रूप में काम करता है। आंवले के पाउडर के साथ शहद मिलाकर दिन में 2-3 बार सेवन करते रहें. नियमित रूप से इसके सेवन से व्हाइट डिस्चार्ज कम हो जाएगा।

आंवला के 14 चमत्कारी फायदे और नुकसान

अनार करे Safed Pani ka ilaj in Hindi

अनार एक गजब का प्राकृतिक फल है जो न केवल स्वादिष्ट होता है बल्कि इसके कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। यह महिलाओं में सफेद पानी की समस्या के लिए प्रभावी घरेलू उपचार में से एक के रूप में माना जाता है।

तुलसी है सफेद पानी की आयुर्वेदिक दवा

तुलसी अद्भुत जड़ी बूटियों में से एक है, जिसकी न केवल पूजा की जाती है, बल्कि इसमें औषधीय महत्व भी है। लंबे समय से, लोग इसे सफेद पानी की समस्या के घरेलू उपचार के रूप में उपयोग कर रहे हैं।

वैकल्पिक रूप से आप सफेद पानी की समस्या से दूर रहने के लिए रोज दूध के साथ भी इसका सेवन कर सकते हैं।

चावल स्टार्च है सफेद पानी का रामबाण इलाज

चावल तैयार करने के बाद अब आप चावल के स्टार्च को निकाल सकते हैं। महिलाओं में सफेद पानी की समस्या को रोकने के लिए इसे नियमित रूप से सेवन करना चाहिये ।

आपको बस चावल उबालने और चावल से पानी छानने की जरूरत है। जब आप बार-बार सफेद पानी की परेशानी से जूझ रहे हों तो यह स्टार्च काफी बेहतर होता है।

अमरूद के पत्ते से Safed Pani ka ilaaj

अमरूद के कुछ पत्तों को पानी में तब तक उबालें जब तक पानी आधा न हो जाए। योनि से सफेद पानी की समस्या को कम करने के लिए पानी से उबली हुई पत्तियों को छीलें और पानी पिएं।

इसे दिन में दो बार पिएं और फिट और स्वस्थ रहें। सफेद पानी की समस्या के ट्रीटमेंट के लिए ये घरेलू उपाय अगर नियमित रूप से किया जाए तो बेहतर है

सफेद पानी के घरेलू उपाय (Home Remedy Of Leukorrhea)

अदरक है सफेद पानी का रामबाण इलाज

टुकड़ों में काटने के बाद अदरक को सुखा लें और इसे एक मिक्सर (Grinder) में रखें। इससे पाउडर बनाएं और इसे सफेद पानी की समस्या के घरेलू उपचार के रूप में लें। आपको 2 चम्मच सूखे अदरक के पाउडर को लेना होगा और इसे पर्याप्त मात्रा में पानी में उबालना होगा।

मेथी के बीज है ल्यूकोरिया की आयुर्वेदिक दवा

मेथी के बीज कई महिलाओं में सफेद पानी की समस्या उपचार के रूप में इलाज किया जाता है। आप इसे गर्म पानी मैं मिलाकर इसका सेवन करें। यह आपके आंतरिक रूप से मजबूत बना देगा |

भिंडी है श्वेत प्रदर का घरेलू इलाज

आप प्राकृतिक रूप से सफेद पानी की समस्या से राहत पाने के लिए भिंडी को उबालकर इसके गाढ़े घोल का सेवन कर सकते हैं।

दही से करें सफेद पानी का रामबाण इलाज

दही का सेवन स्वाभाविक रूप से योनि क्षेत्र में बैक्टीरिया के विकास को रोक देगा, इस प्रकार यह सफेद पानी की समस्या के लिए एक प्रभावी घरेलू उपचार है।

अंजीर है सफेद पानी की रामबाण दवा

महिलाओं में सफेद पानी की समस्या के उपचार के लिए एक और अद्भुत घरेलू उपचार अंजीर के माध्यम से है। आपको 2-3 सूखे अंजीर को रात भर पानी में भिगोने की जरूरत है।

अगले दिन उठें और अंजीर को पर्याप्त रूप से मिश्रित करें और पीएं जब आपका पेट पूरी तरह से खाली हो। यदि आपके पास अंजीर का पाउडर है, तो आपको दो कप पानी में एक चम्मच मिलाना होगा। जब भी आपको सफेद पानी की समस्या हो तो इसे नियमित रूप से पियें।

सफेद पानी की रामबाण दवा

safed pani ki dava: सुपारी पाक महिला को शक्ति और रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रदान कर सकता है। यह श्वेत प्रदर, स्त्री की दुर्बलता, चेहरे का पीलापन दूर करने के लिए अच्छी औषधि है।

ये मेडिसिन ल्यूकोरिया में बहुत उपयोगी है, जहां महिलाओं को गाढ़ा सफेद या पीले रंग का स्राव होता है। बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए सभी महिलाएं इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। यह आपको कमजोरी पर काबू पाने की शक्ति देता है।

और साथ ही यह महिलाओं के सिरदर्द, पीठ दर्द, चिंता, बेचैनी और शारीरिक थकान जैसी सामान्य स्वास्थ्य समस्याओं को कम कर सकता है।

खुराक: 1 चम्मच दिन में दो बार 1 ग्लास हल्का गर्म दूध के साथ।

सफेद पानी की दवा tablet

उपयोग: 1 – 2 गोलियाँ एक दिन में।

पतंजलि सफेद पानी की दवा

पतंजलि में ल्यूकोरिया की दवा:

खुराक: 15 से 30 ml मुंह में बराबर मात्रा में पानी के साथ दिन में दो बार भोजन के बाद या जैसा चिकित्सक द्वारा निर्देशित हो।

सफेद पानी की सिरप

  • यह योनि को स्वस्थ बनाने में मदद करता है और इसका उपयोग पीसीओडी में किया जा सकता है
  • सफेद निर्वहन को नियंत्रित करने में मदद करता है
  • खराब गंध को हटाने में मदद करता है।
  • हार्मोन को उत्तेजित करने में मदद करता है।
  • अनियमित और लंबे समय तक पीरियड के लिए अच्छी दवा

खुराक: दिन में 2 मर्तबा, हर बार भोजन के बाद 2 टेबल चम्मच लेना है।

ल्यूकोरिया में परहेज

सफेद पानी में क्या न खाएं – What not to eat in leucorrhea in Hindi

  • मैदा
  • काला चना
  • प्याज
  • बैंगन
  • खट्टी चीजें
  • गर्म तासीर की चीजें
  • एल्कोहल
  • एसिडिटी बढ़ाने वाले भोजन

और दिलचस्प लेख क्लिक करके पढ़ें:

रातों रात गोरा होने के उपाय

1 महीने में चश्मा हटाकर नज़र को 10 गुणा तेज करें

आँख की गुहेरी/फुंसी का इलाज

जल्दी और सुकून भारी नींद लाने के उपाय

दोस्त, इस सफेद पानी का रामबाण इलाज पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा SHARE और COMMENT करिए।

इस पेज को SUBSCRIBE भी कर लीजिए, ताकि आगे आनेवाली शानदार और जानदार पोस्ट की सूचना आपको मिलती रहे।

स्वस्थ रहें खुश रहें

Leave a Reply