सोने जैसा है मेथी के हैरतअंगेज फायदे | Fenugreek Seeds In Hindi

You are currently viewing सोने जैसा है मेथी के हैरतअंगेज फायदे | Fenugreek Seeds In Hindi

Fenugreek seeds in hindi: सदियों से भोजन और अन्य फ़ायदों के रूप में उपयोग किए जाने वाले मेथी के बीज न केवल भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए उपयोग किए जाते हैं बल्कि मुकम्मल स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ज़रूरी हैं। 

मेथी का हमारे खाने में सब्जी से लेकर पराठे तक में काफी इस्तेमाल होता हैं। भारतीय चिकित्सा शास्त्र आयुर्वेद में सदियों से इसके पत्ते और दानों का औषधि के रूप में प्रयोग होता आ रहा है।

मेथी में कई तरह के गुण और पोषक तत्व जैसे कैरोटीन, कॉपर, जिंक, सोडियम, फोलिक एसिड और मैग्नीशियम आदि पाए जाते हैं।

इस ठंडी के मौसम में वायरल बीमारियों से बचने के लिए अक्सर घरों में नजरअंदाज होने वाली मेथी के दाने के फायदे को जानना बहुत जरूरी है।

सर्दियों की सब्जी मेथी और मेथी के बीज ठंड और शुष्क मौसम में खासतौर पर बतौर भोजन उपयोग के लिए सलाह ड़ी जाती है।

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, मेथी के बीज पोषक तत्वों, फाइबर और पौष्टिक औषधीय से भरपूर भोजन है। गरम तासीर वाली मेथी के नियमित प्रयोग से सर्दियों में कई मौसमी बीमारियों को दूर किया जा सकता है।

Table of Contents

मेथी के फायदे (Fenugreek Benefits In Hindi)

मेथी के फायदे (Fenugreek Benefits In Hindi)

Methi ke Fayde in Hindi: पोषण विशेषज्ञों के अनुसार मेथी दाने में और मेथी की सब्जियों में प्राकृतिक एंटी-एलर्जी गुण होते हैं। 

मेथी के बीज सर्दी, फ्लू, काली खांसी, धूल से एलर्जी से पीड़ित लोगों और साइंस से प्रभावित लोगों के लिए बहुत उपयोगी दवा मानी जाती है।

मेथी के बीज को अपने आहार में शामिल करें और इस प्राकृतिक जड़ी बूटी से 5 लाभ प्राप्त करें:

पाचन तंत्र को सुधार करने में methi khane ke fayde (Fenugreek Seeds for Constipation in Hindi)

पाचन तंत्र को सुधार करने में methi khane ke fayde (Fenugreek Seeds for Constipation in Hindi)

सर्दियों में ज्यादातर लोगों को अपच/बदहजमी की समस्या शुरू हो जाती है। खाना पचाने के लिए पेट को जितना तापमान चाहिए होता है, ठंड के मौसम में वह नहीं मिल पाता, शरीर का temperature गिर जाता है जिससे कब्ज की शिकायत हो जाती है।

मेथी तासीर के लिहाज से गर्म होती है और फाइबर  सामान्य मात्रा के कारण खाना को हजम करने में मदद करती है। 

चर्म रोगों में मेथी के फायदे (Fenugreek Seeds for Skin in Hindi)

कई विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट की उपस्थिति के कारण, यह शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है, जिससे खून साफ होता है और उसका असर स्क्रीन पर भी आता है से दाग धब्बे और कील मुहांसों की शिकायत दूर हो जाती है। 

मेथी skin और बालों के लिए भी बेहद फायदेमंद है इसे खाना का हिस्सा बनाने के साथ-साथ मेथी दाना या उसके पत्तों को पीसकर सीधे चेहरे पर और बालों पर भी लगाया जा सकता है। 

मधुमेह/डायबिटीज़ में उपयोगी (Fenugreek Powder for Diabetes in Hindi)

मधुमेह/डायबिटीज़ में उपयोगी (Fenugreek Powder for Diabetes in Hindi)

मेथी के सेवन से शरीर में स्वाभाविक रूप से इंसुलिन बढ़ता है जिससे ब्लड शुगर लेवल हाई रहता है। 

इसकी पत्तियों को सलाद के रूप में या सब्जी के रूप में खाया जा सकता है। 

ये भी पढ़ें: 100% शुगर खत्म करने का उपाय

कोलेस्ट्रॉल को लेवल में लाने के लिए methi ke fayde (Methi Seeds Benefits for Cholesterol in Hindi)

बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल कई तरह की बीमारियों को जन्म दे सकता है, जिसमें हृदय रोग भी शामिल है। 

फाइबर युक्त मेथी के सेवन से cholesterol का स्तर सामान्य रहता है, जबकि इसके सेवन से मेटाबॉलिज्म तेज हो जाता है, जिससे शरीर में अतिरिक्त चर्बी body में जमने के बजाय मैं बाहर निकल जाता है। 

मेथी के लाभ हैं मासिक धर्म में उपयोगी – Methi for Period Pain in Hindi 

महिलाओं को मासिक धर्म यानी पीरियड के दौरान न सहने योग्य दर्द की हालत से गुजरना पड़ता है।  ऐसी हालत में मेथी दाने से  तैयार पाउडर इससे राहत दिलाने में रामबाण साबित हो सकता है। 

साथी मेथी के बीज पीरियड से जुड़ी और भी प्रॉब्लम्स से आराम दिलाने में भी मदद कर सकते हैं।  क्योंकि मेथी के दानों में एंटीइंफ्लेमेटरी, एनाल्जेसिक, एंटीस्पास्मोडिक व ड्यूरेटिक गुण पाए जाते हैं।

सिर्फ 1 महीने मेथी का पानी पीने के फायदे (Benefits Of Fenugreek Seeds Soaked In Water)

सिर्फ 1 महीने मेथी का पानी पीने के फायदे (Benefits Of Fenugreek Seeds Soaked In Water)

खाली पेट मेथी पानी पीने के फायदे : मेथी के दाने सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं। अधिकांश लोग मेथी का सेवन सिर्फ सब्जी में छौंक लगाने के लिए करते हैं। जबकि मेथी का पानी और भी ज्यादा गुणकारी है और यह आपको कई बीमारियों से बचाता है।

इसे बनाना बहुत ही आसान है। एक से डेढ़ चम्मच मेथी दानों को रात में एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें। सुबह उठकर इस पानी को अच्छे से छान लें और फिर इसे खाली पेट ही पियें।

मेथी के पानी की मदद से ब्लड शुगर को नियंत्रित करे (Fenugreek Water For Regulating Blood Sugar Level) 

मेथी में मौजूद गेलेक्टोमैनन नामक फाइबर, खून में शुगर के अवशोषण को कम करता है। इससे शरीर का ब्लड शुगर लेवल नियत्रित रहता है और डायबिटीज से बचाव होता है।

एसिडिटी से आराम (Fenugreek Seeds In Hindi for Acidity)

जिन लोगों को एसिडिटी या गैस की समस्या है उनके लिए मेथी का पानी रामबाण इलाज है।

रोजाना सुबह खाली पेट एक गिलास मेथी का पानी पीने से पेट की जलन दूर होती है और अपच या एसिडिटी से तुरंत आराम मिलता है।

मेथी का पानी मोटापा दूर करने में सहायक (Fenugreek Water For Weight Loss)

मेथी का पानी वजन कम करने में भी सहायक है। इसमें फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है जिस वजह से इसे पीने के बाद देर तक भूख नहीं लगती है और आप बेवजह बार बार खाने से बच जाते हैं।

ये भी पढ़ें: 15 दिन में मोटापा कैसे कम करें

किडनी की पथरी से आराम (Fenugreek Seeds In Hindi for Kidney stone)

मेथी के पानी का सबसे महत्वपूर्ण फायदा यह है कि इसके नियमित सेवन से किडनी की पथरी में आराम मिलता है।

मेथी में मोजूद तत्व पथरी को गलाने में अहम भूमिका निभाते हैं। हालांकि पथरी दूर करने का यह सिर्फ एक घरेलू उपाय है, इसके अलावा डॉक्टर की मदद जरुर लें।

स्तनों को सुडौल बनाये मेथी

मेथी या मेथीदाना भीगा हुआ 5 से 7 दाने रोज खाली पेट चबाचबा कर खाने से छोटे स्तन के बड़ा कर सुडौल बनाता है।

मैथी में एस्ट्रोजेन हार्मोन स्तन के आकार को बढ़ाने में सहायक होता है।

और पढ़ें: छाती के कैंसर के लक्षण और उपचार

सर्दी-जुकाम से आराम (Fenugreek Seeds In Hindi For Cold)

मेथी में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इसी वजह से मेथी का पानी सर्दी -जुकाम या वायरल से बचाने में बहुत सहायक है।

मेथी का पानी शरीर में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करते हैं और संक्रामक रोगों से आपको बचाते हैं।

और पढ़ें: सर्दी जुकाम बुखार का घरेलू उपचार

मेथी का पानी जोड़ों के दर्द में राहत देने में मदद करता है (Fenugreek Water For Pain Relief)

उम्र बढ़ने के साथ-साथ जोड़ों में सूजन आने लगती है, जिस कारण असहनीय दर्द होता है। इसे जोड़ों का दर्द या फिर आर्थराइटिस कहा जाता है। इससे निपटने के लिए मेथी रामबाण नुस्खा है, जिसे सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है।

वैद्य सुरेश चतुर्वेदी के अनुसार, मेथी से शरीर के कई तरह के दर्द से राहत मिलती है।

बालों के मजबूत और खूबसूरत बनाएं

भिगोये हुए मेथी दानों की पेस्ट तैयार कर उसमें एक बड़ा चम्मच नारियल या जैतून का तेल मिलाकर बालों में अच्छे से लगाये फिर सूखने पर पानी से धो ले।

इसका नियमित इस्तेमाल बालों को मजबूत और खूबसूरत बनाता है।

ये भी पढ़ें: बाल झड़ने से रोकने और दोबारा उगाने के उपाय

पिंपल्स कैसे मिटायें (मेथी खाने के फायदे)

आपको पिंपल्स या एकने (Acne) ने परेशान कर रखा है तो मेथी दाने सुबह भिगो दे रात को सोने से पहले इसके पेस्ट बना ले और शहद के साथ लेप तैयार कर पिंपल्स पर अच्छे से लगा कर रात भर रहने दे।

सुबह उठ कर गुनगुने गर्म पानी से चेहरे को धो डाले। इसके नियमित इस्तेमाल से आप पिंपल्स मुक्त हो जायेंगे। (1)

मेथी दाने से बनी चाय (fenugreek seeds in hindi)

धूल से होने वाली एलर्जी (Dust allergy) से बचाव के लिए मेथी की चाय का प्रयोग बहुत फायदेमंद होता है। 

मेथी की चाय बनाने के लिए आधा गिलास पानी में एक चम्मच मेथी के दानों को उबाल लें। 

अब इस चाय को छानकर उसमें स्वाद अनुसार चीनी या शहद मिलाकर सुबह बासी मुंह/ खाली पेट  या फिर रात सोने से पहले 15 से 20 वर्ष तक इस्तेमाल करें। 

  • अगर आपको ठंडी की वजह से पेशाब करने में तकलीफ होती है तो मेथी के दानों को शहद के साथ प्रयोग करने से लाभ होता है।
  • सर्दी के मौसम में आम होने वाली एलर्जी की किस्म एलर्जिक राइनाइटिस मेथी के दाने की चाय बेहद फायदेमंद साबित होती है। 
  • मेथी दाने की चाय खांसी, गले की खराश, सूजन और दर्द में भी बेहतर इलाज साबित होती है।
  • सर्दियों में मेथी के बीज की चाय पीने से सांस की समस्या भी दूर होती है और सीने में जलन में भी फायदा होता है।
  • मेथी की चाय भी पुरानी कब्ज का इलाज है।
  • मेथी के दानों के सेवन से मौसमी बुखार की अवधि कम हो जाती है।
  • सर्दी, फ्लू और बुखार के लिए खाली पेट एक कप मेथी कॉफी दिन में तीन या चार बार पिएं।
  • मेथी कॉफी बनाने के लिए एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच सूखे मेथी के पत्ते या मेथी दाना तब तक उबालें जब तक कि एक कप पानी न रह जाए।
  • इस कॉफी को अभी सुबह और शाम इस्तेमाल करें।अगर आपको स्वाद पसंद नहीं है तो आप इसमें शहद और नींबू की कुछ बूंदें मिला सकते हैं।

महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को मेथी के दानों का अधिक सेवन करना चाहिए।

जिन महिलाओं और बच्चों को जल्दी थकान हो जाती है, उन्हें भूख नहीं लगती या पाचन क्रिया खराब होती है, उन्हें हफ्ते में दो बार मेथी का सेवन जरूर करना चाहिए।

सुबह खाली पेट मेथी खाने के फायदे

  1. मेथी के भीगे हुए दाने खाने से आपका पेट साफ रहेगा, अगर आपको सुबह फ्रेश होने मे परेशानी होती हे रो बहुत देर तक शौचालय मे बैठा रहना पड़ता हे तो आप रात को एक मिट्टी के किसी बर्तन मे 20-25 दाने भिगो दें और सुबह खाली पेट उठ कर उनको चबाकर खाए ऐसा एक हफ्ता तक करें आपको इस परेशानी से छुटकारा मिल जाएगा।
  2. दूसरा फायदा अगर आप डायबिटीज के मरीज़ हैं तो रोज रात को मैथी के दाने खाने चाहिए इससे आपको डायबिटीज मे आराम मिलेगा।
  3. रोज सुबह भीगे हुए मेथी के दाने खाने से आपको शारीर मे जोड़ों मे दर्द से राहत मिलेगी।
  4. मेथी के भीगे हुए दाने रोज सुबह खाने से आपको जल्दी जल्दी भूख लगने की समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।
  5. भीगे हुए मेथी दानों से आपकी पेट की ओर गैस बनने की परेशानी मे आराम मिलेगा।
  6. अगर आप मेथी के दानों को रात भार भिगोकर रखने पर उसमे से निकले हुए पानी को रोज सुबह खाली पेट पीते हो तो आपको किडनी की पथरी मे आराम मिलेगा और किडनी की पथरी मे मेथी का पानी बहुत ज्यादा कारगर है।

मेथी खाने का तरीका/ मेथी कब खाना चाहिए 

मेथीदान 24 घण्टे तक सादे जल में भिगोकर अंकुरित करके सुबह खाली पेट 1 ग्राम तक ही खाना लाभकारी रहता है।

कोई भी चीज़ लगातार नहीं खानी चाहिए। हर सप्ताह बाद उसे बदल देना चाहिए। मेथी दाना पेट की चर्बी कम करने में सहायक होता है। हर रोज एक छोटा चम्मच मेथी दाना रात को पानी में भिगो कर रख दें और सुबह उस पानी को खाली पेट पी लें और मेथी दाने को चबाकर खाएं। पर लगातार सिर्फ 7 दिन।

ठंड के मौसम में आप मेथी दाने का पाउडर ले सकते हैं और गर्मी में भिगोकर कर लें।आधा चम्मच दाना मेथी भिगोने से फूल कर एक चम्मच के बराबर हो जाती है।

सुबह खाली पेट भिगी हुई दाना मेथी चबाकर चबाकर कर खाएं और दाना मेथी का पानी पी लें।

मेथी खाने के नुकसान (Side Effects Of Fenugreek Seeds)

हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते है, साथ ही मेथी दाना का कुछ साइड इफेक्ट्स भी होता है।

मेथी खाने से पेट संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं, जैसे- पेट में जलन होना, गैस बनना, कब्ज होना, भूख कम लगना, खट्टी डकार आना एवं पाचनशक्ति कमजोर होना आदि।

मेथीदाना अधिक खाने से त्वचा संबंधी या स्किन प्रॉब्लम समस्याएं भी हो सकती हैं। त्वचा पर सूजन या दर्द जैसी समस्या भी इसका सेवन करने से हो सकती हैं। चेहरे पर दाने, काले निशान भी आ सकते हैं।

इससे बचने के लिए इसकी मात्रा का विशेष ध्यान रखें और यदि मेथीदाना हितकारी न हो, तो इसका उपयोग कदापि न करें।

लेकिन अगर मेथी दाना को जितना बताया गया है उतना ही मात्रा में लेते हैं तो मेथी दाना काफी उपयोगी होता है।

मेथी दाना की तासीर गर्म होती है। जिसके कारण गर्भावस्था में मेथी दाना का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है। गर्भवती महिलाएं भूलकर भी मेथीदाने का सेवन न करें।

दोस्त, इस मेथी के फायदे/Fenugreek Seeds In Hindi पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा SHARE और COMMENT करिए।

इस पेज को SUBSCRIBE भी कर लीजिए, ताकि आगे आनेवाली शानदार और जानदार पोस्ट की सूचना आपको मिलती रहे।

स्वस्थ रहें खुश रहें

Leave a Reply